Live24.co
Best News Portel In India

पॉवर कार्पोरेशन के रडार पर कैराना, ताबड़तोड़ छापेमारी

- Advertisement -

कैराना। बिजली चोरी की रोकथाम के लिए पॉवर कार्पोरेशन के रडार पर कैराना आ गया है। शनिवार को कैराना पहुंची मेरठ, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर व शामली से आई विद्युत विभाग की पांच टीमों ने विजिलेंस के साथ में ताबड़तोड़ छापेमारी की। इस दौरान पांच दर्जन से अधिक घरों में बिजली चोरी पाई गई। मामले में विद्युत विभाग की ओर से मुकदमा दर्ज कराने की तैयारी की जा रही है।
शासन के निर्देशों के अनुपालन में बिजली चोरी की रोकथाम के लिए शनिवार को कैराना में विद्युत विभाग की पांच टीमें कैराना पहुंची। टीमों ने विजिलेंस के मेरठ अपर पुलिस अधीक्षक अजय कुमार सिंह व अधीक्षण अभियंता (रेड) पवन अग्रवाल की अगुवाई में बड़ा अभियान चलाया गया, जिसमें ​विद्युत विभाग की टीमों ने विजिलेंस के साथ ताबड़तोड़ छापेमारी की। इस दौरान टीम ने मोहल्ला आलकलां, टीचर्स कॉलोनी, आलदरम्यान, दरबारकलां, रेतावाला आदि मोहल्लों में 400 से अधिक घरों की चेकिंग की, जिनमें पांच दर्जन से अधिक बिजली चोरी पाई गई। बिजली चोरी मिलने पर विद्युत टीम ने आरोपियों के केबिल काटकर उन्हें जब्त कर लिए और उनकी सूची बना ली गई है। टीम ने बिजली चोरों को सुधरने की भी सख्त हिदायत दी। साथ ही, चेताया गया कि यदि दोबारा बिजली चोरी पाई गई, तो जुर्माने के साथ ही सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। टीम में सीओ विजिलेंस टोरीलाल, अधिशासी अभियंता (रेड) धीरेंद्र कुमार, अधिशासी अभियंता प्रथम शामली राजपाल रविवंशी, अधिशासी अभियंता थर्ड शामली जसमीत सिंह, अधिशासी अभियंता चतुर्थ शामली के एके वर्ता, अधिशासी अभियंता बुढ़ाना अनूप कुमार, अधिशासी अभियंता रामपुर मनिहारान राजीव भट्ठ, विजिलेंस के इंस्पेक्टर अंजे कुमार, इंस्पेक्टर दिनेश कुमार, एसआई संजीव कुमार, एसआई राजबीर सिंह, एसआई राजपाल सिंह शामिल रहें। वहीं, सुरक्षा के दृष्टिगत कोतवाली प्रभारी यशपाल धामा भी पुलिस टीम के साथ मौजूद रहें।

- Advertisement -

एसडीएम-सीओ ने किया कैंप
बिजली चोरों के खिलाफ छापेमारी अभियान के दौरान एसडीएम डा. अमित पाल शर्मा व सीओ राजेश कुमार तिवारी तहसीलदार रनबीर सिंह के साथ में कोतवाली कैराना में कैंप किए हुए थे। वे अलग-अलग क्षेत्रों में लगी टीमों से बराबर जानकारी ले रहे थे।

30 प्रतिशत भार हुआ कम
एसडीओ अतुल यादव का कहना है कि अभियान के बाद मशीन व ट्रांसफार्मरों पर पड़ने वाला भार 30 प्रतिशत तक कम हो गया है। चार दर्जन से अधिक घरों में बिजली चोरी पकड़ी गई है, जिनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जा रहा है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More